Good habits कैसे बनाएं। How to Make Good Habits in Hindi.

How to Make Good Habits in Hindi.

हमारी Life का ट्रिगर हमारे हाथ में होना चाहिए ना की उन Bad Habits के हाथ में जो की हमारे Career और Success की राह में हमारे पैर पीछे खींच रही हैं। हमारी सफलता और विफलता दोनों के पीछे जो सबसे बड़ी चीज है वो हमारी Habits हैं, हमारी आज की Habits ही निर्धारित करती हैं की हम आगे क्या बनेंगे और किस Level पर खड़े होंगे। हमारा दिमाग कभी खाली नहीं बैठता और हमेशा किसी ना किसी कार्य में Busy रहता है, हम Physically भले ही कुछ भी ना कर रहे हों पर हम Mentally कुछ न कुछ जरूर कर रहे होते हैं।

किसी भी कार्य में सफलता के लिए मोटिवेशन का होना उतना जरूरी नहीं है जितना उन Habits का होना और Practice का होना जो की हमे लक्ष्य के और पास ले कर जाएँगी वर्ना अकेला मोटिवेशन हमे कभी भी लक्ष्य तक नहीं पहुंचा सकता है।

[mc4wp_form id=”1974″]

सबसे पहले अपने अन्दर Why को ढूंढें

अपने अन्दर Why को ढूंढें की आप नई Habits क्यों चाहते हैं, Why को ढूंढें बिना हम आदतों को विकसित नहीं कर पाएंगे, अपने Mind में Imagine करें नई आदतें विकसित करने के बाद आप क्या बनेंगे आप कैसे दिखेंगे आज के मुकाबले आप कितना आगे बढ़ चुके होंगे,क्या – क्या आपने Achieve कर लिया होगा। क्योंकि जब Habits बनाने का कोई कारण नहीं है तो हमारा Mind उन Habits पर अपना Focus दो से तीन से दिन रखेगा और फिर वापस उसी पुराने Track पर हमे लाकर खड़ा कर देगा।

Habits की शुरुआत कैसे करें

हमे किसी Habit को बनाने के लिए लगातार कुछ दिन तक थोड़े – थोड़े अभ्यास की जरुरत पड़ती है क्योंकि हमारा Mind अचानक किसी भी बड़े बदलाव को एक बड़े खतरे के रूप में देखता है। इसलिए हमारे दिमाग को धीरे – धीरे और छोटे क़दमों से बदलाव के प्रति अभ्यस्त करना जरुरी है जैसे हमे English में Fluent होना है तो हमे रोज बीस वाक्य बोलना सीखने की बजाय मात्र दो वाक्य सीखने से शुरुआत करनी चाहिए। रोज दस हजार कदम चलने के लिए शुरुआत सिर्फ पाँच सौ कदमों से करनी चाहिए। मनोवैज्ञानिक रिसर्च ये कहता है की 21 दिन तक लगातार एक ही चीज को Follow करने के बाद हमारा शरीर Autopilot Mode में अपने आप उस आदत को Follow करने लगता है।

कई आदतें एक साथ ना बदलने का ना सोचें

हम अचानक से किसी मोटिवेशनल वीडियो को देखकर या फिर किसी Successful Personality को सुनकर बहुत ज्यादा उत्साहित होकर उसी समय सारी Bad Habits बदल लेने का ठान लेते हैं और एक से दो दिन के बाद वापस उसी Track आ जाते हैं क्योंकि जैसा मैंने आपको ऊपर बताया हमारा मस्तिष्क अचानक बड़े बदलाव के प्रति Insecure फील करता है और हम वापस उसी Track पर खड़े हो जाते हैं। इसलिए हमारी पॉँच Bad Habits को बदलने के लिए एक – एक को थोड़ा – थोड़ा बदलना हमे ज्यादा Strong बनाता है और हम एक आदत को बदल लेते हैं तो फिर दूसरी को बदलना हमारे लिए बहुत आसान होता है। एक बार Morning में जल्दी उठकर Park में जाकर के तो देखो अपने आप आपके पैर दौड़ने लगेंगे।

[mc4wp_form id=”1974″]

Leave a comment